बारां। किशनगंज विधानसभा क्षेत्र में वाहन से बेलट यूनिट गिरने के मामले की जांच में रिटर्निंग अधिकारी ने इस बेलट यूनिट को रिजर्व बेलट यूनिट होना पाया है। साथ ही इस मामले में दो कार्मिकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

किशनगंज विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी ने जांच रिपोर्ट में बताया कि मतदान दिवस 7 दिसम्बर 2108 को मतदान प्रक्रिया सुचारू रूप से चलाने के लिए ईवीएम खराब होने की स्थिति में मतदान केन्द्रों पर तत्काल ईवीएम की उपलब्धता के लिए यह बेलट यूनिट तहसीलदार शाहबाद को आवंटित की गई थी। उनकी सहायता के लिए तहसील के कर्मचारी आइएलआर अब्दुल रफीक व पटवारी नवल सिंह की ड्यूटी लगाई गई थी इस कार्य के लिए एक जीप भी आवंटित की गई थी।

मतदान सामप्ति के पश्चात रिजर्व ईवीएम तहसीलदार द्वारा इन कर्मचारियों के माध्यम से वेयरहाउस बारां में जमा कराने के लिए भिजवाई जा रही थी इस दौरान एक रिजर्व बेलट यूनिट वाहन से निकलकर रोड पर गिर गई जिसका कार्मिकों को थोड़ा आगे जाकर पता चला जब वे वापस आए तो कुछ लोग वहां आ गए और फोटो ले लिए। इसके बाद शाहबाद थानाधिकारी को बुलाकर यह रिजर्व बेलट यूनिट अभिरक्षा में शाहबाद तहसील ले जाई गई। जांच रिपोर्ट में बताया गया कि यह बेलट यूनिट मतदान के काम में प्रयोग नहीं लाई गई थी और इसे बारां वेयर हाउस में जमा कराने के लिए ले जाया जा रहा था। किशनगंज विधानसभा क्षेत्र की सभी ईवीएम वीवीपेट मशीन निर्धारित प्रोटोकॉल के अनुसार जिला मुख्यालय पर स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रूप से भिजवाया गया है।