U P मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत से मुलाकात की। इन दोनों के बीच समसामयिक मुद्दों पर करीब एक घंटा चर्चा हुई।

0
167

U P मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघ चालक मोहन भागवत से मुलाकात की। इन दोनों के बीच समसामयिक मुद्दों पर करीब एक घंटा चर्चा हुई।
मुख्यमंत्री लखनऊ के सरोजनीनगर स्थित आर्यकुल विद्यालय पहुंचे जहां पर उन्होंने संघ प्रमुख से बातचीत की। माना जा रहा है कि अयोध्या के विकास कार्यों, श्री राम मंदिर निर्माण कार्य व धर्मस्थलों के विकास के मुद्दे पर चर्चा हुई। मोहन भागवत सोमवार को भी राजधानी में संघ के विविध आयोजनों पर चर्चा करेंगे। दो दिवसीय दौरे पर संघ प्रमुख शनिवार रात लखनऊ आ गए थे और उनका सोमवार तक ही यहां रुकने का कार्यक्रम है। इससे पहले मुख्यमंत्री व संघ प्रमुख की अयोध्या में राममंदिर भूमि पूजन कार्यक्रम के दौरान मुलाकात हुई

इससे पहले राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डा. मोहन भागवत ने कार्यकर्ताओं की बैठक में कहा कि कोरोना काल में बहुत अधिक सज्जन शक्ति समाज ने बढ़चढ़ कर सेवा की है। संघ के कार्यकर्ता ऐसे लोगों से संपर्क करें। प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिलाने का काम करें। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आने वाले समय में पर्यावरण को लेकर समाज को जागरूक करेगा। अवध प्रांत कार्यकारिणी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में सरसंघचालक ने कोरोना काल में संघ स्वयंसेवकों द्वारा किए गए कामों के जानकारी ली। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि संघ के अतिरिक्त समाज में कई सामाजिक संगठन, मठ, मंदिरों, गुरुद्वारों ने सेवा कार्य किए हैं। एक बहुत बड़ी सज्जन शक्ति समाज में उभर कर सामने आई है। संघ के कार्यकर्ताओं को ऐसी सज्जन शक्ति से संपर्क करके प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार उपलब्ध कराने की दृष्टि से काम करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में श्रमिकों और ग्रामीण क्षेत्र में किसानों के लिए कार्य करके उनके अंदर आत्मनिर्भरता का भाव में जाग्रत करना चाहिए। पर्यावरण को लेकर सरसंघचालक ने कहा कि पेड़ों के संरक्षण के लिए, पानी का दुरुप्रयोग रोकने के लिए और प्लास्टिक से निर्मित वस्तुओं का काम से कम प्रयोग करने के लिए समाज जागरण की आवश्यकता है।