UTTAR PRADESH

0
268

महाराष्ट्र के पालघर में दो संतों की भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या किए जाने का मामला अभी शांत नहीं हुआ था कि सोमवार देर रात उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में दो साधुओं की धारदार हथियारों से काटकर नृशंस हत्या कर दी गई।     बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में स्थित शिव मंदिर पर पिछले करीब 10 वर्षों से साधु जगनदास (55 वर्ष) और सेवादास (35 वर्ष) रहते थे। दोनों साधु मंदिर में रहकर पूजा-अर्चना में लीन रहते थे। सोमवार की देर रात मंदिर परिसर में ही दोनों साधुओं की धारदार हथियारों से प्रहार कर हत्या कर दी गई।   मंगलवार सुबह ग्रामीण मंदिर में पहुंचे तो उन्हें साधुओं के खून से लथपथ शव पड़े मिले। इसे देखकर कोहराम मच गया  बड़ी संख्या में ग्रामीण मंदिर पर पहुंचे। साधुओं की हत्या से ग्रामीणों में काफी रोष है।    ग्रामीणों ने इस घटना की जानकारी पुलिस को दी जिसके तुरंत बाद एसएसपी संतोष कुमार सिंह, सीओ अनूपशहर अतुल चौबे, कोतवाल मिथिलेश उपाध्याय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। एसएसपी संतोष कुमार ने बताया कि इस मामले में गांव के ही एक युवक राजू को नशे की हालत में पुलिस ने घटनास्थल से करीब दो किलोमीटर दूर दूसरे गांव से अर्द्धनग्न अवस्था में गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। बताया गया है कि 2 दिन पूर्व आरोपी युवक ने साधुओं का चिमटा गायब कर दिया था, जिसको लेकर साधुओं ने नाराजगी जताई थी। इसी बात से क्षुब्ध होकर उक्त युवक के द्वारा रात्रि में दोनों साधुओं की हत्या किए जाने की आशंका है। पुलिस मामले की गहराई से छानबीन कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here