Varanasi मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी के अंतरराज्यीय गिरोह के सदस्य वाराणसी के मेराज अहमद उर्फ भाई मेराज के 20 करीबियों को पुलिस ने चिह्नित किया।

0
196

Varanasi मऊ सदर विधायक मुख्तार अंसारी के अंतरराज्यीय गिरोह के सदस्य वाराणसी के मेराज अहमद उर्फ भाई मेराज के 20 करीबियों को पुलिस ने चिह्नित किया। इसके बाद कैंट, सारनाथ, लालपुर-पांडेयपुर, जैतपुरा, आदमपुर, दशाश्वमेध, चौक, भेलूपुर और जंसा क्षेत्र में रहने वाले मेराज के 20 करीबियों के घर पर बुधवार की शाम पुलिस ने एकसाथ छापा मारा। पुलिस की दबिश और पूछताछ से मेराज के करीबियों में हड़कंप की स्थिति रही।

इसके अलावा मेराज की तलाश में पुलिस टीमों को गाजीपुर, आजमगढ़, प्रयागराज और लखनऊ के लिए भी रवाना किया गया है। पहड़िया क्षेत्र की अशोक विहार कालोनी में रहने वाला और गाजीपुर का मूल निवासी मेराज, मुख्तार अंसारी के साथ ही बागपत जेल में मारे गए मुन्ना बजरंगी गिरोह का भी सदस्य था। मेराज जैतपुरा थाने का हिस्ट्रीशीटर भी है।

मेराज के खिलाफ बीते पांच सितंबर को पिस्टल के लाइसेंस का फर्जी तरीके से नवीनीकरण के आरोप में जैतपुरा थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके बाद पुलिस ने अभियान चला कर मेराज और उसके करीबियों के असलहों का लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी।
एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि वांछित मेराज की तलाश में पुलिस की अलग-अलग टीमें लगी हुई है। वह जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होगा।